श्रीडूंगरगढ़ महाविद्यालय में नव आगन्तुक विद्यार्थियों का स्वागत समारोह आयोजित, विजेताओं को किया गया सम्मानित।

0
समाचार-गढ़ श्रीडूंगरगढ़। विद्यार्थी समय व परिस्थितियों के अनुसार शिक्षा के प्रति गम्भीर रहें। वर्तमान युग तकनीक व शिक्षा का है, विद्यार्थी शिक्षा पर गम्भीर होकर कार्य करें। यह बात श्रीडूंगरगढ़ महाविद्यालय में आयोजित नव आगंतुक विद्यार्थी स्वागत समारोह कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहें राजस्थानी भाषा एंव सांकृतिक अकादमी के पूर्व अध्यक्ष श्याम महर्षि ने कहीं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी एक लक्ष्य बनाकर पढ़ाई करें। जब एक लक्ष्य सामने होंगा तो निश्चित ही सफलता प्राप्त होंगी। उपसचिव रामचंद्र राठी ने महाविद्यालय की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि संस्थान हर सम्भव प्रयास  छात्र हित के लिए कर रहा है। हर विद्यार्थी को गुणवनतापूर्ण शिक्षा मिलें इसके लिए हर सम्भव व्यवस्था महाविद्यालय में की गई है। कार्यक्रम में कॉलेज स्टूडेंट्स द्वारा राजस्थानी, पंजाबी, एकल, सामूहिक नृत्यों की शानदार प्रस्तुतियां दी गई। प्राचार्य डॉ.रामकृष्ण शर्मा ने वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए विभन्न गतिविधियों से आगुन्तकों को अवगत करवाया। महाविद्यालय कला वर्ग प्रथम वर्ष की छात्रा प्रति मालू ने कविता के  माध्यम से  माता पिता की सन्तान के प्रति स्नेह को प्रस्तुत किया।
महाविद्यालय में आयोजित विद्यार्थियों के स्वागत समारोह व मिस एण्ड मिस्टर श्रीडूंगरगढ़ प्रतियोगिता के अलावा विभन्न प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया। जिनमें फस्ट राउंड मिस फ्रेसर प्रति मालू व मिस्टर फ्रेसर आसिफ कुमार रहें।  मिस्टर श्रीडूंगरगढ़ महाविद्यालय सागर सिंधी व  मिस श्रीडूंगरगढ़ सिमरन जाजू विजेता रहीं। सभी विजेताओं को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन हिन्दी विभाग  के व्याख्याता मनोज शर्मा ने किया। इस दौरान डॉ.श्याम सुन्दर वर्मा, विनोद सुथार, सुनील आचार्य, प्रभुदयाल जजमेंट की भूमिका निभाई। कार्यक्रम में महाविद्यालय स्टाफ मौजूद रहा।
समाचार-गढ़। श्रीडूंगरगढ़ महाविद्यालय में विजेताओं के साथ मौजूद अतिथि।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here