इस योगासन को करने से फेफड़े तक पहुंचती है शुद्ध ऑक्सीजन-योगगुरू कालवा

0
समाचार-गढ़। श्रीडूंगरगढ़ कस्बे की तुलसी सेवा संस्थान के प्रेक्षाध्यान भवन से योग महासंघ के तत्वावधान में आयोजित कोरोना वैश्विक महामारी में निःशुल्क आॅनलाइन योग कक्षाओं के माध्यम से महासंघ के राष्ट्रीय संयुक्त सचिव योगगुरू ओम कालवा नियमित कोरोना वायरस से बचाव के लिए उपयोगी योगाभ्यास करवा रहे हैं। कालवा ने फेफड़ों तक शुद्ध ऑक्सीजन पहुंचाने व लेवल बढ़ाने के लिए यहाँ नौकासन के बारें में विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए बताया।
ऐसे करें नौकासन :- दरी बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं दोनों हाथों को शरीर के दोनों ओर रखते हुए सिर की सीध में आगे की ओर करके रखें। एड़ियां व पंजो को मिलाकर व तानकर रखें। अब सांस लेते हुए धीरे धीरे तथा शरीर के अगले हिस्से को जितना संभव हो ऊपर उठाएं। शरीर को इतना उठाएं कि शरीर का पूरा भार नाभि पर रहें और पैर व सिर ऊपर की ओर रहें। शरीर का आकार ऐसा हो जाना चाहिए जैसे किसी नाव का आकार होता है। इसके बाद व पहले हाथों को हिलाएं फिर पैरों को भी हिलाएं लेकिन शरीर का आकार नाव की तरह ही बनाऐ रखें। सांस को जितनी देर तक अंदर रोक सकते हैं रोककर इस स्थिति में रहे ओर फिर शरीर को धीरे धीरे नीचे सामान्य स्थिति में लाकर सांस को छोड़ते हुए पुरे शरीर को ढीला छोड़ दे।
आसन का समय :- व्यक्ति अपनी क्षमतानुसार करें।
आवश्यक सावधानी :- असाध्य रोगों से पीड़ित व्यक्ति योग शिक्षक के निर्देशन में ही करें। ह्रदय रोगी इसका अभ्यास न करें
नौकासन के फायदे :- पेट की चर्बी कम करके मोटापा घटाता है। फेफड़े व श्वास की बीमारी दूर होती है। मधुमेह दूर करने ओर भूख को बढ़ाने में लाभकारी है। शरीर के सभी अंगो में खून के बहाव को तेज करता है जिससें मांसपेशीयां लचिली बनती है। जिगर व तिल्ली के दोषों को दूर कर शारीरिक शक्ति को बढ़ाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here