भामाशाह कन्हैयालाल पटावरी ने 1100 परिवारों को राशन पहुंचाया, स्कूल को क्वारेंटाइन हाऊस बनाने की प्रथम पेशकश, बिग्गाबास रामसरा में युवा जुटें सेवा में।

0

श्रीडूंगरगढ़ (समाचार-गढ़) 29 मार्च 2020। गांव मोमासर के भामाशाह कन्हैयालाल पटावरी ने अपने क्षेत्र के 1100 गरीब परिवारों को राशन सामग्री पहुंचाई है। लॉकडाउन में कोई भूखा ना रहें इस प्रयास में पटावरी ने करीब 20 लाख रुपये का सहयोग दिया है। सरपंच सरिता देवी संचेती ने कन्हैयालाल को ऐसे समय में गांव की मदद करने के लिए आभार व्यक्त किया। उपसरपंच जुगराज संचेती ने गांव में युवाओं की टीम बनाई है कोरोना वारियर्स जो घरों तक राशन पहुंचाने का काम कर रही है। संचेती ने कहा कि हमारा प्रयास है कि ग्रामीण घरों से नहीं निकले और हमारे गांव में कोरोना का प्रवेश हम रोक सकें। उन्होनें कहा कि किसी भी घर में राशन नहीं होने पर सूचित करें उन्हे तुरन्त युवाओं की टीम कोरोना वॉरियर्स द्वारा राशन पहुंचा दिया जाएगा। ज्ञात रहे कन्हैयालाल पटावरी को राजस्थान सरकार जून 2019 में शिक्षा के क्षेत्र में उत्कर्ष कार्य करने के लिए 2018-19 भामाशाह पुरस्कार से भी सम्मानित कर चुकी है। मोमासर गांव में सेवा का माहौल बल रहा है गांव का दर्जी समाज और वार्ड पंचो द्वारा मिल कर 4000 मास्क तैयार कर पूरे गांव में जरूरतमंद को बांटे जा रहे है।

 गांव मोमासर में भामाशाह कन्हैयालाल पटावरी ने 20 लाख रुपए के राशन सामग्री का वितरण गांव में गरीब परिवारों को करवाया।

 

 जुगराज संचेती सहित गांव में कोरोना वॉरियर्स की टीम ने घर घर राशन पहुंचाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here