टैक्स वसूली के लिए निजी प्रतिष्ठानों पर तालाबंदी शुरू, जानें खबर

0

समाचार-गढ़ 23 जनवरी 2021। नगर निगम बीकानेर ने टैक्स वसूली के लिए निजी प्रतिष्ठानों पर तालाबंदी शुरू कर दी है। कोयला गली स्थित ए.के. कॉम्पलेक्स को सीज कर दिया गया। यह कार्रवाई तीन फर्मों पर होनी थी, लेकिन दो फर्मों ने कुछ राशि जमा कराकर समय मांगा है। एक अनुमान के मुताबिक सरकारी और निजी प्रतिष्ठानों पर करीब 100 करोड़ का टैक्स बकाया है। कई बार नोटिस भेजने के बावजूद टैक्स नहीं जमा कराने पर यह कार्रवाई की गई।

सरकारी विभागों पर बकाया टैक्स
नगर निगम मेयर सुशीला राजपुराेहित ने बताया कि सरकारी विभागों पर करीब 60 करोड़ रुपए बकाया है। इस पर राज्य सरकार ने निगम को बकाया करों पर पुर्नविचार करने के लिए बोला है। माना जा रहा है कि निगम की ओर से लगाई गई पेनल्टी देने के लिए सरकार तैयार नहीं है। बीच का रास्ता निकालते हुए चालीस से पचास करोड़ रुपए निगम फिर भी लेने पर अड़ा हुआ है। ऐसे में सरकारी विभागों पर कोई कार्रवाई नहीं करते हुए अगले एक महीने तक इंतजार किया जाएगा।

निजी फर्मों में बकाया
दूसरी तरफ निजी फर्मों पर भी 40 करोड़ रुपए से ज्यादा राशि बकाया है। राजपुराेहित का कहना है कि हर महीने लाखों रुपए किराया वसूल करने वाली फर्में भी टैक्स देने के लिए तैयार नहीं है। अब इन फर्मों पर सख्ती की जाएगी। एक लाख रुपए से ज्यादा बकाया वाले प्रतिष्ठानों और घरों को भी सीज करने की कार्रवाई होगी। बीकानेर में करीब 900 निजी प्रतिष्ठान, संस्थान और मकान मालिक हैं जिनका अरबन टैक्स एक लाख रुपए से ज्यादा बकाया है।

स्कूलों को राहत
मेयर राजपुरोहित ने बताया कि एक लाख से ज्यादा रुपए बकाया वाले सभी निजी प्रतिष्ठान सीज किए जाएंगे। लेकिन, स्कूलों को फिलहाल इससे राहत दी गई है। अर्से से बंद पड़े निजी स्कूलों को शीघ्र बकाया जमा कराने के निर्देश दिए गए हैं। फिलहाल इन स्कूलों को सीज नहीं किया जाएगा। पिछले साल कोरोना के कारण बंद पड़े निजी स्कूलों को आर्थिक नुकसान होने के कारण फिलहाल सख्ती नहीं बरती जा रही है।

अभी है पेनल्टी और ब्याज में छूट
​​​​​​​राजपुरोहित ने बताया कि निगम ने यूडी टेक्स जमा नहीं कराने वालों को फिलहाल जुर्माने व ब्याज की राशि में छूट दिया है। आम आदमी को इसका लाभ उठाना चाहिये, अगर तय समय में टेक्स जमा नहीं हुआ तो सीज की कार्रवाई होगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here