श्रीडूंगरगढ़ में किसानों का विरोध प्रदर्शन, जूलूस निकालकर उपखण्ड अधिकारी को राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन, जानें पूरी खबर

0

समाचार-गढ़ 25 सितम्बर 2020। श्रीडूंगरगढ़ में अखिल भारतीय किसान सभा द्वारा अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर सरकार द्वारा कृषि पर लाए तीनों बिलो व बिजली संशोधन बिल का किसानों द्वारा विरोध करते हुए घुमचक्कर से लेकर एसडीएम कार्यालय तक जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। किसानों ने नारेबाजी करते हुए बिलों को वापस लेने की मांग सहित 11 सूत्री मांगों का ज्ञापन उपखंड अधिकारी के मार्फत राष्ट्रपति को भेजा एवं 9 सूत्री मांगों का ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम भेजा। इसमें बताया कि समय रहते हुए इन मांगों पर केंद्र व राज्य सरकार गौर नहीं करती है तो आने वाले दिनों में किसानों के आक्रोश को देखते हुए भारी विरोध का सामना करना पड़ सकता है। केंद्र व राज्य सरकार ने किसानों को ललकारा है, जिसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। इसलिए यह बिल असहनीय है, जब तक सरकार यह बिल वापस नहीं लेती है तब तक संघर्ष जारी रहेगा एवं किसानों का गुस्सा किसी भी समय किसी भी रूप में फूट सकता है जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। किसानों का नेतृत्व सभा के जिला कोषाध्यक्ष कॉमरेड मोहन भादू, तहसील अध्यक्ष अमर गिरी गोस्वामी, तहसील सचिव किसान नेता गोपाल भादू, कान नाथ सिद्ध, एसएफआई नेता मुकेश सिद्ध, विवेक लावा, कृष्ण गोदारा आदि ने किया। उसके बाद 5 किसान नेताओं के प्रतिनिधि मंडल एसडीएम से मिलकर ज्ञापन सौंपकर किसानो की भावनाओं से अवगत करवाया। जिसमें उपसरपंच टेऊ लालुराम सारण, सरपंच सुनील मेघवाल, भंवर लाल भूंवाल, राजेंद्र जाखड़ आदि मौजूद रहे। जुलूस में सैंकड़ों किसानों ने शामिल होकर विरोध किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here