ये टूथ पाउडर आपकी साँसों को तरोताजा कर देता है, साथ ही मसूड़ों को चुस्त व कसावदार, जानें दातों को मोती जैसे चमकदार कैसे बनाएं

0
समाचार-गढ़। बढ़िया से बढ़िया टूथपेस्ट लगाने से भी दांतों की चमक उतनी नहीं मिलती जितनी हम चाहते हैं. साथ ही अधिकतर टूथपेस्ट मुंह की उतनी सफाई नहीं कर पाते जितनी होनी चाहिए. नतीजा ये कि बार बार डेंटिस्ट के चक्कर लगाने पड़ते हैं.
आईये, एक ऐसा दंत मजंन बनाते हैं जो बिलकुल नेचुरल तो है ही, साथ में असरदार भी है…
जब आप इससे ब्रश करेंगे तो आपको महसूस होगा कि हमारे आयुर्वेदिक नुस्खे कितने कारगर हैं, व किफायती भी. ये मंजन दांतों को मोती जैसा चमकदार, लंबे समय तक मजबूत रखेगा, तथा साथ ही आप पायरिया, मसूड़ों से खून, मुख की दुर्गन्ध इत्यादि तमाम मुख रोगों से निजात पा सकेंगे.
आपको बस केवल थोडा सा श्रम करना है, चीज़ें इकट्ठी कर मंजन बनाने के लिये.
मंजन की सामग्री
नीम छाल 50  ग्राम
नीम्बू के सूखे छिलके 50  ग्राम
सेंधा नमक 10  ग्राम
काली मिर्च 10  ग्राम
लौंग 10  ग्राम
फिटकरी 10  ग्राम
कर्पूर 5  ग्राम
सत अज्वायन 5  ग्राम
नीम छाल
नीम एक उत्तम एंटीबैक्टीरियल वनस्पति है. यह मसूड़ों और दांतों को सडन से बचाती है. अपने आस पास लगे नीम के पेड़ की दातुन जितनी मोटी या अधिक मोटी टहनियां ले आयें. उनकी छाल निकाल कर तीन चार दिन छाँव में रखें फिर धूप में सुखा लें. सूखने के बाद कूट लें फिर ग्राइंड कर महीन पाउडर बना लें.
नीम्बू का छिलका
नीम्बू संतरे के छिलके astringent गुणों से भरपूर होते हैं. रस निकाले हुए नीम्बू पहले तीन दिन छाँव में सुखाये. बाद में कड़क होने तक धूप में सुखाएं. फिर ग्राइंड कर लें.
सामग्री के बाकी घटक रसोई से व बाज़ार से ले आईये. सब को मिला कर बारीक ग्राइंड कर लें. पूरे परिवार के लिये मंजन तैयार है.
जी हां यह सही है, अगर आप घर पर टूथपाउडर या दंतमंजन बना लें। इसे बनाना आसान है। यह उतना ही कारगर है, जितना कि बाजार से लाया हुआ।
बेंटोनाइट मिट्टी, बेकिंग सोडा, दालचीनी, लौंग और मिंट
दांतों पर सोड़ा घिसने से दांतों पर जमा हुआ प्लाक और दाग धब्बे निकल जाते हैं। बेकिंग सोडा में थोड़ा सा नींबू का रस मिलाकर ब्रश कर सकते हैं। जरूरत से ज्यादा बेकिंग सोडा का प्रयोग ना करें। दालचीनी एंटीबैक्टीरियल है। मुंह में बैक्टीरिया नहीं बनने देती। मुंह से आने वाली दुर्गन्ध रोकती है। लौंग का उपयोग दांतों और मसूड़ों की समस्या में किया जाता है। यह दांतदर्द में आराम देती है। मिंट में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हंै इसमें, जो दांतों और मुंह को जगमगाता हुआ रखता है।
ऐसे बनाएं
 3 टेबलस्पून बेंटोनाइट मिट्टी, 2 टेबलस्पून बेकिंग सोड़ा,1 टेबलस्पून पुदीने की सूखी पत्तियों का चूर्ण, 1/2 टेबलस्पून दालचीनी पाउडर, एक टेबलस्पून लौंग पाउडर लेकर सभी को एक कटोरी में मिलाकर कांच के जार में भर लें।
 तुलसी टूथ पाउडर
तुलसी की कुछ पत्तियां लेकर  सुखा लें। पीस कर एक जार में रख दें। इस पाउडर से रोज ब्रश करें। आप चाहें तो अपनी उंगली इस्तेमाल सकते हैं।
हल्‍दी का दंत मंजन
हल्दी का मंजन दांतों के लिए बहुत उपयोगी होता है। मंजन बनाने के लिए हल्दी की गांठ को धीमी आंच पर भूनकर इसे बारीक पीसकर कपड़े से छान लें। अब इसमें थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाकर सुबह व शाम को भोजन से पूर्व इसका मंजन करें। आपके दांतों से जुड़ी सभी परेशानियां इससे दूर हो जाएंगी।
काली मिर्च और सोंठ
यह मुंह की दुर्गन्‍ध को दूर कर दांतों को साफ रखता है। सोंठ, काली मिर्च, पीपर, हरड़, बहेड़ा, आंवला, दालचीनी, तेजपत्र तथा इलायची का बराबर मात्रा में चूर्ण लेकर इसमें थोड़ा-सा सेंधा नमक तथा तिल का तेल मिलाकर पेस्ट बना लें।
सरसों के तेल का दंत मंजन
इसे बनाने के लिए 60* मिलीलीटर सरसों के तेल में 5-6 लहसुन की कलियां पीसकर गर्म करें। अब इसमें 30 ग्राम भुनी हुई अजवायन और 15 ग्राम सेंधानमक मिला लें। मंजन तैयार है।
बादाम के छिलकों का मंजन
बादाम के छिलकों से बना मंजन दांतों को चमकाने के काम आता है। 20 ग्राम बादाम के छिलकों की राख, 20 ग्राम माजूफल, 20 ग्राम सेंधा नमक, 3 ग्राम अजवाइन और 3 ग्राम अफीम सभी को पीसकर महीन पाउडर बना लें।
मसूर की दाल
दांतों में पीलापन दूर करने के लिए मसूर की दाल काफी लाभदायक है। इसके लिए मसूर की दाल को जलाकर इसकी राख को बारीक पीसकर मंजन बना लें। दिन में दो बार इसका उपयोग करें। दांत साफ और चमकदार होंगे।
नीम के फायदे
नीम के मंजन से दांत साफ, चमकदार और मजबूत बनते हैं। दांतों में कीड़ा भी नहीं लगता। नीम की टहनी को पत्तियों सहित छाया में सुखाकर आग में जला लें। अब इसकी राख में लौंग मिलाकर पीस लें और दंत मंजन तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here