आज हैं सर्वार्थसिद्धि योग व यशोदा जयंती जाने आज का पंचाग पँ. श्रवण भारद्वाज के साथ

0
आज हैं सर्वार्थसिद्धि योग व यशोदा जयंती जाने आज का पंचाग पँ. श्रवण भारद्वाज के साथ –
दिनांक – 04 मार्च 2021
वार – गुरुवार
तिथि – षष्ठी
पक्ष – कृष्ण पक्ष
माह – फाल्गुन
नक्षत्र– विशाखा
योग– व्याघात
करण– गर11:07 बजे तक तत्पश्चात वणिज
चन्द्र राशि – तुला 18:19 बजे तक तत्पश्चात वृश्चिक
सूर्य राशि – कुम्भ
ऋतु – शिशिर
आयन – उत्तरायण
संवत्सर – शार्वरी
विक्रम संवत – 2077 विक्रम संवत
शाका संवत – 1942 शाका संवत
सूर्योदय – 06:56 बजे
सूर्यास्त – 18:34 बजे
दिन काल – 11 घण्टे 38 मिनट
रात्री काल – 12 घण्टे 21 मिनट
चंद्रास्त – 10:21 बजे
चंद्रोदय – 24:05 बजे
राहू काल – 14:13 – 15:40 अशुभ
अभिजित – 12:23 -13:09 शुभ
पंचक – नहीं
दिशाशूल – दक्षिण दिशा में
समय मानक – मोमासर (बीकानेर)
चोघडिया, दिन
शुभ – 06:57 – 08:24 शुभ
रोग – 08:24 – 09:51 अशुभ
उद्वेग – 09:51 – 11:19 अशुभ
चर – 11:19 – 12:46 शुभ
लाभ – 12:46 – 14:13 शुभ
अमृत – 14:13 – 15:40 शुभ
काल – 15:40 – 17:08 अशुभ
शुभ – 17:08 – 18:35 शुभ
चोघडिया, रात
अमृत – 18:35 – 20:07 शुभ
चर – 20:07 – 21:40 शुभ
रोग – 21:40 – 23:13 अशुभ
काल – 23:13 – 24:45* अशुभ
लाभ – 24:45* – 26:18* शुभ
उद्वेग – 26:18* – 27:51* अशुभ
शुभ – 27:51* – 29:23* शुभ
अमृत – 29:23* – 30:56* शुभ
 विशेष – षष्ठी को नीम की पत्ती, फल या दातुन मुँह में डालने से नीच योनियों की प्राप्ति होती है।
 –बाल बढ़ाने के लिए–
पहला प्रयोग :–  स्नान के समय तिल के पत्तों का रस लगाने से, मुलहठी, आँवला या भृंगराज का तेल लगाने से, करेले की जड़ अथवा मेथी को पानी में घिसकर लगाने से, निबौली का तेल लगाने से बाल बढ़ते हैं।
दूसरा प्रयोगः– बड़ की पुरानी जटाओं को नींबू के रस में घिसकर अच्छे से लेप करें। आधे घण्टे पश्चात् बाल धो डालें। फिर नारियल का तेल लगायें। ऐसा तीन दिन करने से बालों का झड़ना बंद होता है। बाल लंबे, काले तथा मजबूत होते हैं।
धन – सम्पदा के स्थायी निवास हेतु–
ॐ ह्रीं गौर्यै नम:
इस मंत्र से ७ बार अभिमंत्रित करके अन्न का भोजन करनेवाले के पास सदा श्री ( धन–सम्पदा ) बनी रहती है।
घर के सदस्य की मृत्यु पर
अगर घर में किसी की मृत्यु हो गई हो तो रोज 12 दिन तक घर की छत पे एक कटोरी में दूध और एक कटोरी में पानी रख के आयें दूसरे दिन सुबह वो पानी और दूध पीपल के मूल में ड़ाल दें ऐसा 12 दिन करने से जिसकी मृत्यु हुई है उसकी आत्मा को शान्ति मिलती है उनका आशीर्वाद घर वालों को मिलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here