कोरोना को मात देने के लिए गांव के युवाओं ने उठाया यह कदम, जानें यह सकारात्मक खबर

0

समाचार-गढ़। कोरोना वायरस से लड़ने की इस जंग में शहरों के साथ-साथ गांवों में भी जागरूकता बढ़ने लगी है। गांव के युवा भी कोरोना को हराने की इस जंग में आगे आकर जागरूकता पैदा कर रहे हैं। कोरोना के प्रति जागरूकता की एक खबर उपखण्ड क्षेत्र के श्री हंसोजी महाराज की तपोस्थली लिखमादेसर से निकलकर सामने आई है। लिखमादेसर के श्री जसनाथजी नवयुवक संस्था के युवा कोरोना वायरस के प्रति ग्रामीणों को जागरूक कर रहे है, वो कोरोना की इस दूसरी लहर की भयावता के बारे में बताकर अपने घरों में ही रहने का संदेश दे रहे है। इसके साथ ही ये युवा घर-घर जाकर मास्क, सेनेटाइजर के साथ-साथ कोरोना वायरस के लक्षण एवं बचाव के पम्पलेट भी वितरण कर रहे है। ये युवा दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी की अपील भी करते हुए दिखाई दे रहे है। युवाओं ने बताया कि इस जागरूकता अभियान में भामाशाह बीरबल पुत्र मदनलाल पारीक, राजू पुत्र मालाराम सोलंकी व माणकचन्द पुत्र भंवरलाल धाड़ेवा आर्थिक सहयोग कर रहे है। युवाओं ने इस अभियान की शुरूआत संत सोमनाथजी और हजारीराम मेघवाल से की। इस अभियान में युवा मदन मेघवाल, रतिनाथ, राजनाथ, पुखराज, नत्थुनाथ, भंवरलाल, रामरतन, बाबूलाल, योगेश प्रभूराम नानूदास आदि युवा अपने दोनों हाथों में दस्ताने पहन, मास्क लगाकर इस महामारी से गांव को बचाने का प्रयास कर रहे है। समाचार-गढ़ भी श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र के हर गांव से जुड़े हुए 20 हजार पाठकों से यही अपील करता है कि आप भी अपनी जिम्मेदारी को समझे ओर कोरोना की इस दूसरी लहर से अपने गांव को बचाने का प्रयास करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here