श्रीडूंगरगढ़ विधायक ने अनेक क्वारेंटाइन सेंटरों का किया निरीक्षण, सेंटरों पर व्याप्त अव्यवस्थाओं से जिला कलक्टर को करवाया अवगत

0

समाचारगढ़ । क्षेत्र के क्वारेंटाइन सेंटरों में असुविधाओं को लेकर लगातार मिल रही शिकायतों के मद्देनजर श्रीडूंगरगढ विधायक गिरधारीलाल महिया ने बुधवार को शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के अनेक क्वारेंटाइन सेंटरों पर पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान क्वारेंटाइन सेंटर में रखे गए नागरिकों से बातचीत कर उनकी समस्याएं सुनी व डयूटी पर तैनात कर्मचारियों के अलावा प्रवासी नागरिकों से फीडबैक लिया। क्वारेंटाइन सेंटरों पर मिली अव्यवस्थाओं को लेकर जिला कलक्टर को अवगत करवाने के लिए पत्र लिखा है। विधायक महिया ने कहा कि श्रीडूंगरगढ़ में बाहर से आने वाले प्रवासियों को श्रीडूंगरगढ़ के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यालयों भवनों में क्वारेंटाइन किया गया है। क्वारेंटाइन किए गए प्रवासियों द्वारा बार-बार शिकायतें की जा रही थी कि सेंटर में रहने हेतु मूलभूत सुविधाओं की अत्यधिक कमी है। जिससे अनेकों परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शहरी क्षेत्र में आइसोलेट किए गए प्रवासियों को समाजिक संस्थाओं द्वारा भोजन व सुबह-शाम नाश्ता दिया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इनकी जांच भी लगातार की जा रही है । लेकिन प्रशाशन द्वारा अन्य सुविधाओं पर ध्यान नहीं जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों के क्वारेंटाइन सेंटरों में साफ-सफाई की उचित व्यवस्था नहीं होने के कारण मच्छरों की भरमार होने से आइसोलेटेड नागरिक परेशान है। इन परेशानियों को देखकर विधायक महिया ने जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम को पत्र लिखकर सेंटरों पर व्याप्त सुविधाओं से अवगत करवाया है।
उन्होंने कहा कि सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए एक कमरे में सिर्फ दो लोगो को ही रखा जाए व मच्छरों से बचाव के लिए फॉगिंग का छिड़काव किया जावें। प्रशासन द्वारा सेंटर में रखे सभी प्रवासी नागरिकों को अच्छा व पौष्टिक भोजन उपलब्ध करवाया जाए। सुबह-शाम चाय-बिस्किट के अलावा दूध भी दिया जावें। साथ ही उन्होंने महिलाओं को होम आइसोलेशन में रखने की मांग की है। आइसोलेशन सेंटर में 14 दिन की अवधि पूरी होने के बाद उन नागरिकों की ट्रेवल हिस्ट्री का पता लगाकर अगले 14 दिनों तक होम आइसोलेटेड करने की व्यवस्था की जावें। जिससे बाहर से आने वाले प्रवासियों की मानसिक स्थिति पर बुरा प्रभाव नहीं पड़े एवं संकट की इस घड़ी में नागरिक स्वयं मजबूती से प्रशासन का सहयोग कर सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here