घूसखोर शिक्षक अब जाएगा सलाखों के पीछे, एसीबी कोर्ट ने सुनाया फैसला, पूनरासर का मामला।

0

समाचार-गढ़ 8 सितम्बर 2020। एक हजार रुपये रिश्वत के मामले में न्यायालय भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो बीकानेर ने फैसला सुनाते हुए राजकीय माध्यमिक विद्यालय पूनरासर तहसील तारानगर जिला चूरू के तत्कालीन वरिष्ठ अध्यापक प्यारेलाल भार्गव को तीन वर्ष का कारावास व दस हजार रुपये जुर्माने देने का फैसला सुनाया है। सेशन न्यायधीश चक्रवर्ती महेचा ने आज प्रकरण की सुनवाई करते हुए फैसला सुनाया। प्रकरण में अभियोजन पक्ष की ओर से सहायक निदेशक़ अभियोजन शरद कुमार ओझा ने पैरवी की। अभियोजन पक्ष की ओर स कुल 22 गवाहों के बयान करवाए गए। जानकारी के अनुसार चूरू जिले के बुधावास निवासी तत्कालीन वरिष्ठ अध्यापक प्यारेलाल भार्गव ने लोकसेवक रहते हुए कवितारानी के 12 हजार बकाया मानदेय के चेक का भुगतान करने की एवज में परिवादी रामप्रताप से एक हजार रुपये रिश्वत के रूप में लिए थे। एसीबी कोर्ट बीकानेर में चालान 2 अगस्त 2011 को पेश किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here