सरकार बैठी है होटलों में और जनता हो रही है परेशान, जनप्रतिनिधियों की बोली लग रही

0
समाचार-गढ़ 1 अगस्त 2020। श्रीडूंगरगढ़ के विधायक गिरधारीलाल महिया ने राज्य में चल रही उठापटक एवं अस्थिरता के सवाल पर बोले कि जनता की चुनी हुई सरकार का दायित्व है कि वो जनता की मूलभूत सुविधाओं के साथ अन्य समस्याओं के प्रति सजग रहे। किन्तु यहां पर तो सरकार होटलों में करवट बदल रही है और किसान, मजदूर एवं आम जनता कोरोना महामारी की बंदिशों के चलते आर्थिक संकटों से जूझने के साथ ही टिड्डी, कहीं अतिवृष्टि व कहीं पर अल्पवृष्टि से प्रभावित है। किन्तु जनता के दू:ख-दर्द को कोई सुनने वाला नहीं है। गांवों में इन सबके बीच पीने के पानी के लिए लोगबाग तरस रहे है। सरकार कह रही है कि जनप्रतिनिधियों की बोली लग रही है। जबकि जनता का चुना हुआ प्रतिनिधि स्वतंत्र नहीं है वो बाड़ाबंदी का शिकार है तो जनता की कौन सुनेगा वो बाड़ाबंदी में रहना एवं बिकना सबसे गिरी हुई हरकत है। इससे जनता का विश्वास कम होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here