विवाह समोराहों में गाइडलाइन की अवहलेना पर हो सख्त कार्यवाही, जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक का श्रीडूंगरगढ़ दौरा

0
समाचार-गढ़ श्रीडूंगरगढ़। जिला कलक्टर नमित मेहता और पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने आज बुधवार को श्रीडूंगरगढ़ में उपखण्ड स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर कोविड प्रबंधन की समीक्षा की। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बने कोविड केयर सेंटर में प्रोटोकॉल के अनुसार व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा सिटी राउंड लेकर गाइडलाइन की पालना की स्थिति जानी।
बैठक के दौरान जिला कलक्टर ने कहा कि महामारी रेड अलर्ट जन अनुशासन लॉकडाउन के प्रावधानों की शत प्रतिशत अनुपालना सुनिश्चित की जाए। गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही हो। सभी अधिकारी क्षेत्र का नियमित भ्रमण करें। विवाह समारोहों में गाइडलाइन की अनुपालना में कोई ढिलाई नहीं बरती जाए। प्रत्येक विवाह समारोह का निरीक्षण किया जाए। समारोह की नियमानुसार आॅनलाइन सूचना नहीं होने, ग्यारह से अधिक आदमी होने, टैंट, बेंड या हलवाई होने पर एक लाख का जुर्माना लगाया लाए। सभी विवाह समारोह घर पर ही हों तथा किसी वाहन का उपयोग नहीं किया जाए। उन्होंने डोर-टू-डोर सर्वे की प्रगति की समीक्षा की तथा ग्राम स्तरीय कमेटियों को एक्टिव रखने को कहा। अनुमत श्रेणी के अलावा कोई भी दुकान नहीं खुले तथा खुली दुकानों पर गाइडलाइन की शत प्रतिशत अनुपालना हो। बेवजह सड़कों पर घूमने वालों के खिलाफ कार्यवाही हो।
जिला कलक्टर ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत पंजीकरण की प्रगति की समीक्षा की तथा कहा कि 31 मई तक सभी परिवारों का पंजीकरण सुनिश्चित करें।
पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने कहा पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी आपसी समन्वय रखें। प्रत्येक बीट कांस्टेबल अपने-अपने क्षेत्र के विवाह समारोहों की सूचना रखें तथा आयोजकों को आयोजन से पूर्व गाइडलाइन की जानकारी दी जाए और अवहेलना नहीं करने के लिए समझाएं। इसके बावजूद शिथिलता बरती जाए, तो सख्त कार्यवाही हो। उन्होंने कहा कि होम क्वारेंटीन नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाई जाए।
कोविड केयर सेंटर का किया अवलोकन
जिला कलक्टर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्थापित कोविड केयर सेंटर का विजिट किया तथा यहां ऑक्सीजन, दवाइयों, बैड सहित सभी संसाधनों के बारे में जाना। उन्होंने कहा कि मरीज को किसी भी स्थिति में परेशानी नहीं हो। उसे आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन मिले। ऑक्सीजन की उपलब्धता के लिए जिला स्तर से समन्वय रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर क्वारेन्टीन सेंटर स्थापित किए जाएं। यह कार्यवाही गुरुवार तक पूर्ण करने के निर्देश दिए।
सिटी राउंड लेकर जानी स्थिति
जिला कलक्टर ने पुलिस अधीक्षक के साथ श्रीडूंगरगढ़ शहर का विजिट किया तथा लॉक डाउन के प्रावधानों की अनुपालना जानी। उन्होंने कहा कि गैर अनुमत श्रेणी की दुकानें किसी स्थिति में नहीं खुलें। आवश्यकता के अनुसार कन्टेन्टमेंट जोन निर्धारित करते हुए सख्ती बढाई जाए। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी नियमित राउंड लें और कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर की अनुपालना सुनिश्चित करवाएँ। जिला कलक्टर ने सेरूणा स्थित बी.एस. एयर प्रोडक्ट्स के आॅक्सीजन जनरेशन प्लांट का अवलोकन किया तथा यहां की व्यवस्थाएं देखी। उन्होंने आॅक्सीजन के प्रेशर के बारे में जाना।
उपखण्ड अधिकारी दिव्या चौधरी ने क्षेत्र में कोविड प्रबंधन की स्थिति और अन्य व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी। इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओम प्रकाश, प्रशिक्षु आईएएस सिद्धार्थ पलानिचामी, कोविड नोडल अधिकारी डॉ. बी एल मीना सहित उपखण्ड स्तर के अधिकारी मौजूद रहे।
समाचार-गढ़। जिलाकलेक्टर नमित मेहता और एसपी प्रीति चंद्रा श्रीडूंगरगढ़ के उपखण्ड कार्यायय में कोविड तैयारी हेतु स्थानीय प्रशासन की बैठक लेते हुए।
समाचार-गढ़। जिलाकलेक्टर नमित मेहता अस्पताल में कोविड सेन्टर का जायजा लेते हुए।
समाचार-गढ़। जिलाकलेक्टर नमित मेहता ने स्थानीय प्रशासन से आॅक्सीजन को लेकर ली जानकारी।
—–
श्रमिकों की कठिनाइयों के निराकरण के लिए कमेटी गठित
समाचार-गढ़ श्रीडूंगरगढ़। महामारी रेड अलर्ट जन अनुशासन लॉकडाउन में श्रमिकों के आवागमन हेतु पास व्यवस्था के संबंध में आने वाली कठिनाइयों के निराकरण के लिए जिला स्तरीय कमेटी का गठन किया है।
जिला मजिस्ट्रेट नमित मेहता द्वारा जारी आदेशों के अनुसार अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा कमेटी के नोडल अधिकारी होंगे। इसके अतिरिक्त कमेटी में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) शैलेंद्र सिंह इंदौलिया, जिला उद्योग केंद्र की महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा, संयुक्त निदेशक डीओआईटी सत्येंद्र सिंह राठौड़ तथा रीको के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक ए. के. सक्सेना होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here