Nature Nature Nature Nature Nature Nature श्रीडूंगरगढ़ नगरपालिका पर डीडीआर का छापा, अधिकारी, कार्मिकों पर गिरेगी का गाज! - Homepage
Nature Nature Nature Nature Nature Nature Nature Nature

श्रीडूंगरगढ़ नगरपालिका पर डीडीआर का छापा, अधिकारी, कार्मिकों पर गिरेगी का गाज!

समाचार गढ़, श्रीडूंगरगढ़। श्रीडूंगरगढ़ की नगरपालिका में अधिकारियों और कार्मिकों के कमरों के ताले लगे रहने से पालिका पहुंचने वाले आमजन के काम नहीं हो रहे है। समाचार गढ़ ने इसको लेकर ख़बर प्रकाशित की थी। इसकी शिकायत लगातार उच्चाधिकारियों तक पहुंच रही थी। जिसके बाद आज जिला कलेक्टर के निर्देश के बाद DDR के उपनिदेशक अवि गर्ग अपनी टीम के साथ श्रीडूंगरगढ़ नगरपालिका पहुंचे। DDR की टीम को देखकर पालिका में हड़कम्प मच गया। उपनिदेशक अवि गर्ग ने बताया कि वह अपनी टीम के साथ सुबह 9.45 बजे पालिका पहुंचे। इस दौरान पालिका के विभिन्न शाखाओं के कमरों के ताले लगाए हुए मिले और तीन चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी के अलावा कोई कर्मचारी-अधिकारी मौजूद नहीं था। अवि गर्ग ने जब कर्मचारियों से इन कमरों के ताले खोलने के लिए कहा तो कर्मचारियों ने कहा कि उनके पास चाबी नहीं है। सभी शाखों के कर्मचारी चाबी अपने साथ ले जाते हैं। यह बात सुनकर अभी गर्ग बड़े ही हैरान हुए और कहा कि किसी भी अधिकारी-कर्मचारी को इन शाखाओं की चाबी साथ ले जाने का कोई अधिकार नहीं है। चाबियों को नगर पालिका में ही छोड़े ताकि सभी शाखों को खोला जा सके और आमजन के काम सुचारू रूप से चल सके। इस दौरान पालिका अध्यक्ष मानमल शर्मा, पार्षद अरुण पारीक, जगदीश गुर्जर, रजत आसोपा, परसराम (रामसिह) जागीरदार ने पालिका के इस व्यवस्था पर नाराजगी जताते हुए अधिकारियों को शिकायत दर्ज करवाई। अब ऐसी संभावना जताई जा रही है कि पालिका में अनुपस्थित पाए गए कार्मिकों पर गाज गिर सकती है।

उपनिदेशक गर्ग ने अन्नपूर्णा रसोई का किया औचक निरीक्षण

समाचार गढ़, श्रीडूंगरगढ़। उपनिदेशक अवि गर्ग ने इस दौरान बस स्टैंड स्थित एवं घुमचक्कर के पास स्थित अन्नपूर्णा रसोई का भी औचक निरीक्षण किया। यहाँ खाने, साफ सफाई से संबंधित व्यवस्थाएं देखी। गर्ग को खाने से संबंधित व्यवस्थाएं ठीक लगी, लेकिन साफ सफाई से संबंधित निर्देश दिए और अन्नपूर्णा रसोई का बैनर लगाने के निर्देश दिए। जिससे लोग वहां पहुंच सके और लाभ ले सकें।

बुजुर्ग स्वामी ने गर्ग का जताया आभार

समाचार गढ़, श्रीडूंगरगढ़। श्रीडूंगरगढ़ नगर पालिका में जब उपनिदेशक अवि गर्ग पर पहुंचे उस दौरान कस्बे के बुजुर्ग तोलाराम स्वामी अपने पुत्र के शादी समारोह के लिए शहीद हेमू कलानी पार्क बुक कराने के लिए आये हुए जो कि पिछले कई दिनों से इसके लिए चक्कर पर चक्कर काट रहे थे। लेकिन पालिका के हालात तो किसी से छुपे नहीं है। स्वामी ने जब गर्ग को यह बात बताई तो उन्होंने तुरंत कैशियर को बुजुर्ग तोलाराम का काम करने के निर्देश दिये। जिस पर बुजुर्ग तोलाराम स्वामी ने अवि गर्ग का आभार जताया।

Ashok Pareek

Related Posts

स्वीकृत विद्युत लाईन को पोल लगवा कर खींचवाने व किसानों को समय पर बिजली उपलब्ध करवाने की मांग

समाचार गढ़, 19 जून। श्रीडूंगरगढ़ विधान सभा क्षेत्र के ग्रामीण अंचल में स्वीकृत विद्युत लाईन को पोल लगवा कर खींचवाने व किसानों को समय पर बिजली उपलब्ध करवाने की मांग…

तोलियासर के पास हुआ सड़क हादसा, पढ़े पूरी खबर

समाचार गढ़, 19 जून, श्रीडूंगरगढ़| क्षेत्र में लगातार सड़क हादसे की घटनाए सामने आ रही है, अभी कुछ समय पहले क्षेत्र के गांव तोलियासर के पास सड़क हादसा हुआ है|…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

स्वीकृत विद्युत लाईन को पोल लगवा कर खींचवाने व किसानों को समय पर बिजली उपलब्ध करवाने की मांग

स्वीकृत विद्युत लाईन को पोल लगवा कर खींचवाने व किसानों को समय पर बिजली उपलब्ध करवाने की मांग

तोलियासर के पास हुआ सड़क हादसा, पढ़े पूरी खबर

तोलियासर के पास हुआ सड़क हादसा, पढ़े पूरी खबर

जांच के दौरान विभिन्न अनियमितताएं पाए जाने पर 15 मेडिकल स्टोर्स के अनुज्ञापत्र निलम्बित किए गए हैं।

जांच के दौरान विभिन्न अनियमितताएं पाए जाने पर 15 मेडिकल स्टोर्स के अनुज्ञापत्र निलम्बित किए गए हैं।

श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी से आज के ताज़ा भाव, देखे किस के भाव में आया उतार-चढ़ाव

श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी से आज के ताज़ा भाव, देखे किस के भाव में आया उतार-चढ़ाव

वन्यजीवों एवं पक्षियों की हो रही मौतों व वन विभाग के कर्मचारियों की लापरवाही के खिलाफ़, उपखंड अधिकारी को दिया ज्ञापन

वन्यजीवों एवं पक्षियों की हो रही मौतों व वन विभाग के कर्मचारियों की लापरवाही के खिलाफ़, उपखंड अधिकारी को दिया ज्ञापन

राजस्थान सरकार जल्द ला सकती है, अवैध धर्मांतरण के खिलाफ़ कानून

राजस्थान सरकार जल्द ला सकती है, अवैध धर्मांतरण के खिलाफ़ कानून
Social Media Buttons
Telegram
WhatsApp
error: Content is protected !!
Verified by MonsterInsights