Samachargarh AD
Samachargarh AD
HomeFrontसनातन मुक्ति धाम में शिव महाकथा का आज होगा समापन, चारों पहर...

सनातन मुक्ति धाम में शिव महाकथा का आज होगा समापन, चारों पहर भगवान शिव का होगा रूद्राभिषेक

Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD

श्रीडूंगरगढ़। सनातन मुक्ति धाम में आयोज्य शिव महाकथा के छठे दिवस की कथा सुनाते हुए भाई संतोष सागर ने कहा–स्त्री के लिए पातिवृत्य धर्म से बड़ा कोई धर्म नहीं है। सदाचरण ही उसकी पूंजी है। पुरूषों को भी सदाचारी होना चाहिए। शिव और शक्ति की कथा स्त्री-पुरुष को जीना सिखाती है। हम सनातनी अपनी परंपराओं को भूलते जा रहे हैं, ऐसा ही माहौल रहा तो एक दिन हमारी सनातनी सर्वाधिक प्राचीन संस्कृति नष्ट हो जाएगी।
महाराज श्री ने गौधन बचाने की अपील करते हुए कहा कि इस काल में गोधन सेवा हमारे लिए अनिवार्य हो चुकी है। सोमवार की कथा के दौरान बीसों दानदाताओं ने गोसेवार्थ गौमाता भंडारा को राशि समर्पित की।
आज शिवरात्रि के दिन सप्त दिवसीय शिव कथा का समापन होगा, वहीं सम्पूर्ण रात्रि को रुद्राभिषेक का कार्यक्रम चलेगा। कथा के दौरान भव्य झांकियों का आयोजन किया गया। कथा के विश्राम से पहले महाराज श्री ने पूरे वर्ष भर चलनेवाली सनातन धर्म यात्रा के सम्बन्ध में विस्तारपूर्वक बताया। यह यात्रा राजस्थान के 33 जिलों में धार्मिक आयोजन करेगी।

Samachargarh AD
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!
विज्ञापन