Nature Nature Nature Nature Nature Nature सर्दियों में बच्चों को खिलाएं ये फल, बच्चों को रखें स्वस्थ - Homepage
Nature Nature Nature Nature Nature Nature Nature

सर्दियों में बच्चों को खिलाएं ये फल, बच्चों को रखें स्वस्थ

सर्दी के मौसम में बच्चों को खासकर सही खानपान देना बहुत जरूरी है ताकि उनका शरीर गर्म रहे। इसके लिए सूप या गर्म तासीर की चीजें देती हैं। इसके साथ ही आप बच्चों की डाइट में कुछ खास फल शामिल कर सकती हैं।

आमतौर पर महिलाएं सर्दी के मौसम में बच्चों को फल कम खिलाती हैं जबकि सर्दियों में भी बच्चों को फल खिलाने चाहिए। यहां हम आपको कुछ ऐसे फलों के बारे में बता रहे हैं जो ठंड के मौसम में बच्चों को जरूर खिलाने चाहिए।

बच्चों की इम्यूनिटी के लिए फल जरूरी हैं। इसके साथ ही यह जानना भी आवश्यक है कि फल खाने का सही समय क्या है, फल कब खिलाने चाहिए और कैसे खिलाने चाहिए। अगर आप सही नियमों के अनुसार बच्‍चे को फल खिलाएंगी तो यकीनन कोरोना वायरस जैसी बीमारी बच्चे को छू भी नहीं पाएगी।

संतरा

मांएं सोचती हैं कि सर्दियों के मौसम में संतरा खाना सही नहीं होता है। इससे बच्चे को ठंड लग सकती है, जबकि ऐसा नहीं है। सर्दी के मौसम में बच्चों को संतरा देना जरूरी है।

हां, संतरा या कोई भी खट्टा फल शाम या रात के समय देना नुकसानदायक होता है। इसलिए दिन के समय छत पर बैठकर या बालकनी की धूप में बैठकर बच्चे को संतरा खिलाएं।

बच्चे को रोजाना एक संतरा जरूर दें। अगर बच्चे की उम्र 9 माह से कम है, तो उसे संतरे का जूस बनाकर दें। जूस की मात्रा कम रख सकती हैं।

9 माह से ज्यादा उम्र के बच्चे को संतरे के बीज और छिलका निकालकर दें। जहां तक बच्चों के लिए संतरे के फायदों की बात है, तो यह स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक है।

इसमें विटामिन सी, ई और काॅपर पाया जाता है। ये सभी पोषक तत्व बच्चों के लिए लाभकारी हैं। इससे बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इस कारण बच्चा सर्दी-जुकाम और खांसी जैसी बीमारियों से बचा रहता है।

अमरूद

अमरूद सर्दियों के मौसम में पाया जाने वाला फल है। बच्चों को यह फल जरूर दें, क्योंकि यह एक मौसमी फल है। अमरूद खिलाने से पहले उसका छिलका उतार दें और बीज निकालकर बच्चे को दें।

कई बार अमरूद में कीड़े भी लगे होते हैं। इसलिए अमरूद खरीदने से पहले इसकी अच्छी तरह जांच-परख कर लें।

अगर बच्चा छोटा है, तो इसे मैश कर के दें। अगर बच्चा खुद खा सकता है, तो उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर दें। अमरूद खाने से बच्चे का पेट साफ रहता है, उसे सर्दी-जुकाम नहीं होता।

अमरूद में विटामिन ए होता, जो बच्चों को कई तरह के लाभ पहुंचाता है।

अक्सर आपने देखा होगा कि मांएं सर्दी के मौसम में केले से दूर रहती हैं, क्योंकि माना जाता है कि केले से सर्दी-जुकाम हो सकता है जबकि केले में इतने फायदे हैं, जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकती हैं।

बच्चे को रोजाना दिन के समय एक केला जरूर दें। इसे खाने से बच्चे को तुरंत एनर्जी मिलती है। यदि बच्चे को पहले से सर्दी जुकाम है, तो ऐसे में केला देने से बचें क्योंकि केला शरीर में बलगम बनाता है।

  • Ashok Pareek

    Related Posts

    बिग्गाबास रामसरा में पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित, उपखण्ड अधिकारी सहित, अन्य अधिकारी रहे मौजूद

    समाचार गढ़, 18 जुलाई, श्रीडूंगरगढ़। मुख्यमंत्री वृक्षारोपण महाभियान के तहत ग्रामीण अंचल में पौधारोपण का कार्य तीव्र गति से चल रहा है। इसी कड़ी में गुरुवार को श्रीडूंगरगढ़ उपखंड अधिकारी…

    पालिका की साधारण सभा में पार्षदों का हंगामा, तीन एजेंडे सर्वसम्मति से पारित, सफाई व्यवस्था सुधारने की मांग

    समाचार गढ़, 18 जुलाई 2024। श्रीडूंगरगढ़ नगरपालिका की साधारण सभा की बैठक आज गुरूवार को पालिका के सभागार हॉल में पालिकाध्यक्ष मानमल शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक…

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    You Missed

    बिग्गाबास रामसरा में पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित, उपखण्ड अधिकारी सहित, अन्य अधिकारी रहे मौजूद

    बिग्गाबास रामसरा में पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित, उपखण्ड अधिकारी सहित, अन्य अधिकारी रहे मौजूद

    पालिका की साधारण सभा में पार्षदों का हंगामा, तीन एजेंडे सर्वसम्मति से पारित, सफाई व्यवस्था सुधारने की मांग

    पालिका की साधारण सभा में पार्षदों का हंगामा, तीन एजेंडे सर्वसम्मति से पारित, सफाई व्यवस्था सुधारने की मांग

    नर नारायण सेवा संस्थान ने किया पौधारोपण

    नर नारायण सेवा संस्थान ने किया पौधारोपण

    विश्व हिन्दू परिषद् की नई कार्यकारिणी घोषित, जोशी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष नाई व मंत्री सेठिया नियुक्त, पढ़े पूरी खबर

    विश्व हिन्दू परिषद् की नई कार्यकारिणी घोषित, जोशी अध्यक्ष, उपाध्यक्ष नाई व मंत्री सेठिया नियुक्त, पढ़े पूरी खबर

    दरगाह रोड पर मोमासर बास के युवक का पेड़ पर लटका मिला शव

    दरगाह रोड पर मोमासर बास के युवक का पेड़ पर लटका मिला शव

    बारिश के मौसम में जहर बन जाते हैं ये फूड, खाने से होता है पछतावा

    बारिश के मौसम में जहर बन जाते हैं ये फूड, खाने से होता है पछतावा
    Social Media Buttons
    Telegram
    WhatsApp
    error: Content is protected !!
    Verified by MonsterInsights