Nature Nature Nature Nature Nature Nature जापान ने पहली बार एक भयंकर हथियार की टेस्टिंग की - Homepage
Nature Nature Nature Nature Nature Nature Nature Nature

जापान ने पहली बार एक भयंकर हथियार की टेस्टिंग की

टोक्यो। जापान ने पहली बार एक भयंकर हथियार की टेस्टिंग की, जिसे रेल गन कहते हैं। इसकी फायरिंग की गई। दुनिया के सबसे खतरनाक हथियार को एक युद्धपोत से चलाया गया। जापानी मैरीटाइम सेल्फडिफेंस फोर्स यानी वहां की नौसेना ने यह टेस्टिंग की है। दरअसल, यह एक फ्यूचर वेपन है। खास बात यह है कि इसमें किसी गोले-बारूद की जरूरत नहीं होती। जापान ने इस खतरनाक हथियार का परीक्षण इसलिए किया है, ताकि वह चीन के हाइपरसोनिक हथियारों, मिसाइलों को आसमान में ही उड़ा देगा। यह एक मीडियम कैलिबर की नौसैनिक रेलगन है। यह हथियार जापान की राजधानी टोक्यो को दुश्मन के हमलों से बचाने का काम करेगी।

दागती है 40 मिमी के स्टील प्रोजेक्टाइल

जापानी नौसेना ने इस परीक्षण का जो वीडियो जारी किया है उसमें अलग-अलग एं गल से रेलगन की फायरिंग को दिखाया जा रहा है। रेल गन के जरिए इलेक्ट्रोमैग्नेटिक एनर्जी को मिसाइल की तरफ फेंकता है। इसकी गति बहुत ही ज्यादा होती है। यह हाइपरसोनिक स्पीड से भी तेज चला जाता है। माना जा रहा है कि जापान ऐसे कई रेलगन देश की समुद्री और जमीनी सीमा पर तैनात करने जा रहा है। यह गन 40 मिलिमीटर के स्टील प्रोजेक्टाइल को दागती है। असल में यह स्टील की गोलियां हैं, जिनका वजन 320 ग्राम का होता है।

लक्ष्य को तबाह कर देती है

रेल गन से इलेक्ट्रोमैग्नेटिक ताकत से स्टील या धातु के गोले या गोलियां निकलती है, जो अपने निशाने को बुरी तरह तबाह कर देती हैं। रेल गन आम तोपों से अलग है। आम तोप के बैरल से बारूद की आग के दबाव से गोला निकल कर जाता था, लेकिन रेलगन में बारूद की जगह इलेक्ट्रिसिटी और चुंबकीय शक्ति का उपयोग किया जाता है, बारूद का नहीं। इन दोनों शक्तियों के मिलने और प्रतिक्रिया से गोला कई गुना ज्यादा गति से निकलता है। रेल गन पारंपरिक तोपों की तुलना में ज्यादा सुरक्षित है।

Ashok Pareek

Related Posts

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सेसोमूं स्कूल में भव्य कार्यक्रम का आयोजन श्रीडूंगरगढ

समाचार गढ़, 21 जून, श्रीडूंगरगढ़। सेसोमूं स्कूल में शुक्रवार को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर विशेष योग सत्र का आयोजन किया, जिसमें छात्रों और शिक्षकों…

श्रीपुनरासर हनुमान जी मंदिर मोमासर का 25 वा स्थापना दिवस मनाया डॉ. जगदीश गोदारा के एपीओ आदेश पर लगी रोक, हाई कोर्ट ने दिया स्थगन आदेश

समाचार गढ़, 21 जून, श्रीडूंगरगढ़। श्रीपूनरासर हनुमान जी मंदिर गांव मोमासर के 25 वा स्थापना दिवस मनाया गया। जिसमें गांव आड़सर टीम द्वारा सुंदरकांड का शुमधुर वाणी में पाठ किया…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सेसोमूं स्कूल में भव्य कार्यक्रम का आयोजन श्रीडूंगरगढ

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सेसोमूं स्कूल में भव्य कार्यक्रम का आयोजन श्रीडूंगरगढ

श्रीपुनरासर हनुमान जी मंदिर मोमासर का 25 वा स्थापना दिवस मनाया डॉ. जगदीश गोदारा के एपीओ आदेश पर लगी रोक, हाई कोर्ट ने दिया स्थगन आदेश

श्रीपुनरासर हनुमान जी मंदिर मोमासर का 25 वा स्थापना दिवस मनाया    डॉ. जगदीश गोदारा के एपीओ आदेश पर लगी रोक, हाई कोर्ट ने दिया स्थगन आदेश

जोनल चीफ बिजली ऑफिस में हुई मिटिग, पूर्व मंत्री गोविंद राम मेघवाल और कांग्रेस के नेता रहे मौजूद, कई समस्या पर बनी सहमति

जोनल चीफ बिजली ऑफिस में हुई मिटिग, पूर्व मंत्री गोविंद राम मेघवाल और कांग्रेस के नेता रहे मौजूद, कई समस्या पर बनी सहमति

श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी से आज के ताज़ा भाव, देखें किस के भाव में आयाउतार-चढ़ाव

श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी से आज के ताज़ा भाव, देखें किस के भाव में आयाउतार-चढ़ाव

सड़क किनारे खड़े ट्रक में मिला चालक का शव, पुलिस पहुंची मौके पर

सड़क किनारे खड़े ट्रक में मिला चालक का शव, पुलिस पहुंची मौके पर

बाइक का बेलेस बिगड़े से हुआ हादसा, बाइक सवार को किया बीकानेर रैफर

बाइक का बेलेस बिगड़े से हुआ हादसा, बाइक सवार को किया बीकानेर रैफर
Social Media Buttons
Telegram
WhatsApp
error: Content is protected !!
Verified by MonsterInsights