Samachargarh AD
Samachargarh AD
HomeFrontशिक्षादेर आए, दुरस्त आये, श्रीडूंगरगढ़ में शिक्षा के क्षेत्र में हो रहा...

देर आए, दुरस्त आये, श्रीडूंगरगढ़ में शिक्षा के क्षेत्र में हो रहा विकास

Samachargarh AD

समाचार-गढ़, श्रीडूंगरगढ़। मुख्यमंत्री व मंत्री से नजदीकियां रखने वाले राजनेता अब शिक्षा के क्षेत्र में लगतार घोषणाएं करवा रहे है। लेकिन यहां देर आए, दुरस्त आये वाली कहावत ठीक बैठती है। क्योंकि क्षेत्र में विकास के मामले में इससे पहले इतनी कोशिश यहां के राजनेता शायद नहीं करते थे। खेर अब क्षेत्र में शिक्षा के क्षेत्र में निरन्तर विकास हो रहा है। वर्तमान में यहां के राजनेताओं द्वारा सरकारी विद्यालयों को क्रमोन्नत करवाना हो या स्कूल के लिए कमरों का निर्माण हो, स्कूल में मूलभूत किसी प्रकार की समस्या हो या अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा के प्रति बच्चों का रूजान हो। राजनेता अपनी-अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर शिक्षा के क्षेत्र में घोषणाएं करवाकर क्षेत्र के विकास में योगदान दे रहे है। गुरूवार को श्रीडूंगरगढ़़ विधानसभा क्षेत्र में सरकार द्वारा 3 और सरकारी विद्यालयों को महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) में रूपान्तरित किया गया है। राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के क्रियान्वयन के क्रम में राबाउप्रावि रीड़ी, राप्रावि बाना व सेरूणा में पूर्व में बंद की गई राप्राविद्यालय को पुनः शूरु कर महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम राजकीय विद्यालय में रूपान्तरित किया है। ये विद्यालय सत्र 2022-23 से ही संचालित किए जाएंगे।
श्रीडूंगरगढ़़ क्षेत्र में अंग्रेजी माध्यम में शिक्षा प्राप्त करने के प्रति विद्यार्थियों का रूझान लगातार बढ़ रहा है। इसको ध्यान में रखकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं शिक्षामंत्री बी.डी कल्ला से श्रीडूंगरगढ़ विधायक गिरधारी महिया व पूर्व विधायक मंगलाराम गोदारा ने कई बार मुलाकात कर क्षेत्र के अनेक गांवों में अंग्रेजी माध्यम स्कूलें खोलने की मांग कर रहे थे। जिस पर मुख्यमंत्री गहलोत व मंत्री बी.डी कल्ला का वर्तमान व पूर्व विधायक ने आभार जताया है वहीं अभिभावक भी महिया व गोदारा का आभार प्रकट कर रहे है।

Samachargarh AD
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!
विज्ञापन