Nature NatureNature Nature RTI (सूचना का अधिकार अधिनियम 2005) आरटीआई कार्यकर्ता लक्ष्मी सुथार की कलम से - Homepage
Nature Nature Nature Nature Nature Nature Nature Nature

RTI (सूचना का अधिकार अधिनियम 2005) आरटीआई कार्यकर्ता लक्ष्मी सुथार की कलम से

RTI (सूचना का अधिकार अधिनियम 2005)
आरटीआई कार्यकर्ता लक्ष्मी सुथार की कलम से✍️✍️✍️✍️
RTI का अर्थ- सूचना का अधिकार – ये कानून हमारे देश मे 2005 में लागू हुआ। इस कानून के तहत आप सरकार और सरकारी विभाग से सभी तरह की सूचना मांग सकते है। आमतौर पर लोगो को इतना ही पता होता है। यही वजह है की अमूमन लोग एक सादे कागज पर अपने सवाल लिखकर संबंधित विभाग को भेज देते हैं।लेकिन उसका समय पर उत्तर नही मिलता है क्योंकि RTI सही तरीके से दाखिल नही होती है ! मानवाधिकार एव आरटीआई जागरूकता समिति,श्री डुंगरगढ़ आपको RTI से सम्बंधित सभी सही तरीके से आवदेन लिखने की जानकारी दे रहे है ताकि आप इसका लाभ उठा सके ।

सूचना का अधिकार के माध्यम से निम्नलिखित जानकारी प्राप्त कर सकते है।

1.आप सरकार से किसी भी विषय पर सवाल पूछकर सूचना ले सकते है।

  1. आप सरकार या किसी भी विभाग से किसी भी दस्तावेज की जांच कर सकते है ।
  2. आप सम्बंधित दस्तावेजो की प्रमाणित प्रतिलिपि ले सकते है ।
  3. आप सरकारी कामकाज में इस्तेमाल सामग्री का नमूना ले सकते है।
  4. आप किसी भी कामकाज का निरीक्षण कर सकते है।

सूचना का अधिकार की कौन -कौनसी धारा हमारे काम की है।
धारा 6(1)- RTI का आवेदन लिखने की धारा है।
धारा 6(3) -अगर आपका आवेदन गलत विभाग में चला गया है।वह विभाग इसको धारा 6(3) -के अंतर्गत सही विभाग में 5 दिन के अंदर भेज देगा। आपको लिखित में सूचित कर देगा।
धारा 7(5)- इस धारा के अनुसार BPL कार्ड वालो को कोई आरटीआई शुल्क नही देना होता है।
धारा 7(6) -इस धारा के अनुसार अगर आरटीआई का जवाब 30 दिन में नही आता है तो मांगी गई सूचना निशुल्क में दी जाएगी।
धारा 18- अगर कोई अधिकारी समय पर जवाब नही देता है तो उसकी शिकायत सूचना आयोग में की जा सकती है।
धारा 8- इस धारा के अनुसार वो सूचना RTI में नही दी जाएगी जो देश की अखंडता ओर सुरक्षा के लिए खतरा हो या विभाग की आंतरिक जांच को प्रभावित करती हो।
धारा 19(1)- अगर आपकी RTI का जवाब 30 दिन में नही आता है। तब इस धारा के अनुसार आप प्रथम अपील अधिकारी को प्रथम अपील कर सकते है।
धारा 19(3)- अगर आपकी प्रथम अपील का भी जवाब नही आता है तब आप इस धारा की मदद से 90 दिन के अंदर द्वितीय अपील अधिकारी को अपील कर सकते है।
मानवाधिकार एव आरटीआईई जागरूकता समिति, श्रीडूंगरगढ़ के माध्यम से आम लोगों को सूचना का अधिकार के प्रति जागरूक करने का एक छोटा सा प्रयास है।

लक्ष्मी सुथार, मो.9001643523 🙏🙏

  • Ashok Pareek

    Related Posts

    खरीफ सीजन में बीज, खाद-उवर्रक की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कृषि आदान विक्रेता कार्यशाला आयोजित

    समाचार गढ़, बीकानेर, 28 मई। कृषि विभाग के छत्तरगढ़ स्थित कार्यालय में संयुक्त निदेशक (कृषि) कैलाश चौधरी की अध्यक्षता में आगामी खरीफ सीजन में बीज, खाद व उवर्रक की पर्याप्त…

    जानें श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी से आज के ताजा भाव, किस फ़सल के भाव में आया उतार-चढ़ाव

    समाचार गढ़, 28 मई, श्रीडूंगरगढ। श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी के आज के भाव ग्वार 5200-5300 ग्वार नया 4800-5150 मोठ 4500-4800 नया मोठ 5300-6400 नया चना 6500-7000 रूसी चना नया 6100-7100 मैथी…

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    You Missed

    खरीफ सीजन में बीज, खाद-उवर्रक की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कृषि आदान विक्रेता कार्यशाला आयोजित

    खरीफ सीजन में बीज, खाद-उवर्रक की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कृषि आदान विक्रेता कार्यशाला आयोजित

    जानें श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी से आज के ताजा भाव, किस फ़सल के भाव में आया उतार-चढ़ाव

    जानें श्रीडूंगरगढ़ धान मंडी से आज के ताजा भाव, किस फ़सल के भाव में आया उतार-चढ़ाव

    राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड 10वी का रिजल्ट कल होगा जारी

    राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड 10वी का रिजल्ट कल होगा जारी

    जिला प्रभारी सचिव कितासर के बाद श्रीडूंगरगढ़ उपजिला अस्पताल और समंदसर गांव में जलापूर्ति व्यवस्था का निरक्षण किया

    जिला प्रभारी सचिव कितासर के बाद श्रीडूंगरगढ़ उपजिला अस्पताल और समंदसर गांव में जलापूर्ति व्यवस्था का निरक्षण किया

    भारत-भूटान समरसता सम्मेलन में होगा श्री विष्णु पटेल का सम्मान

    भारत-भूटान समरसता सम्मेलन में होगा श्री विष्णु पटेल का सम्मान

    घुमचक्कर पर सुबह अवैध शराब कट्टे में लिए खड़ा था युवक, शराब जब्त, युवक गिरफ्तार

    घुमचक्कर पर सुबह अवैध शराब कट्टे में लिए खड़ा था युवक, शराब जब्त, युवक गिरफ्तार
    Social Media Buttons
    Telegram
    WhatsApp
    error: Content is protected !!
    Verified by MonsterInsights