Samachargarh AD
Samachargarh AD
HomeFrontसमस्याविद्युत विभाग की लापरवाही से पानी के लिए मचा हाहाकार ग्रामीणों में...

विद्युत विभाग की लापरवाही से पानी के लिए मचा हाहाकार ग्रामीणों में भारी आक्रोश

Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD

समाचार गढ़, श्रीडूंगरगढ़। धरातल पर सरकारी तंत्र किस प्रकार लापरवाही से काम कर रहा है जिसके चलते ग्रामीण काफी आक्रोश में नजर आ रहे हैं। ऐसा ही देखने को मिल रहा बीकानेर जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर श्री डूंगरगढ़ उपखंड मुख्यालय से ग्यारह किलोमीटर दूर सातलेरा गांव में जहां विद्युत विभाग की घोर लापरवाही के चलते ग्रामीण पानी की एक-एक बूंद को मोहताज हो रहे प्रशासन को कोस रहे हैं। विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते गांव में भारी जल संकट की स्थिति उत्पन्न हो गई है पानी के लिए गांव में हाहाकार मचा हुआ है। गांव के हालात दिन प्रतिदिन बिगड़ते जा रहे हैं लेकिन विभाग द्वारा अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।
ग्रामीण सुगनाराम जाखड़, गिरधारी लाल, पूराराम, केसरा राम, गोपीचंद जाखड़ आदि ने बताया कि गांव में दो नलकूप है दोनों ही नलकूप पिछले कई दिनों से बंद पड़े हैं। ग्रामीणों ने बताया कि नलकूप की विद्युत सप्लाई तथा घरों की विद्युत सप्लाई का एक ही ट्रांसफार्मर है जो 63 एचपी का है इस ट्रांसफार्मर से नलकूप को पूरा वोल्टेज नहीं मिलने के कारण बार-बार नलकूप की मोटर जल जाती है जिसके चलते गांव में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों को अवगत करवा दिया गया है लेकिन अभी तक समस्या का कोई भी समाधान नहीं हुआ है। ग्राम पंचायत की सरपंच रामप्यारी देवी जाखड़ द्वारा एक सप्ताह पूर्व विद्युत विभाग के सहायक अभियंता को ज्ञापन देकर गांव के नलकूप एवं घरों की विद्युत आपूर्ति को अलग अलग करने तथा वर्तमान में लगे छोटे ट्रांसफार्मर को हटाकर सौ एचपी का ट्रांसफार्मर लगाने की मांग की गई है। लेकिन लापरवाह विद्युत विभाग अपने लापरवाह रवैया से बाज नहीं आ रहा है जिसका खामियाजा ग्रामीण भुगत रहे हैं।
पानी की किल्लत के चलते आवारा पशु धन की हालत दयनीय हो गई है ग्रामीण महंगे दाम देकर पानी के टैंकर डलवा कर अपनी प्यास बुझाने पर मजबूर है। गांव के हालात विकट होते जा रहे हैं। लेकिन विडंबना कि अधिकारी लापरवाह बन कर बैठे है जिसको जनता की समस्या से कोई सरोकार नहीं रह गया है। ग्रामीणों ने विद्युत विभाग से वर्तमान में लगे ट्रांसफार्मर को हटाकर 100 एचपी का नया ट्रांसफार्मर लगाकर नलकूप एवं घरों की विद्युत आपूर्ति को अलग-अलग कर राहत दिलाने की मांग की है। साथ ही ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर विभाग द्वारा शीघ्र ही समस्या का समाधान नहीं किया गया तो ग्रामीण मजबूर होकर धरना प्रदर्शन का रास्ता अपनाएंगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी संबंधित विभाग की होगी ।

दूसरा नलकूप भी खराब- इसी प्रकार मेघवाल मोहल्ले में कुछ माह पूर्व प्रधान कोटे से नलकूप का निर्माण करवाया गया था इस नलकूप से रेतीला पानी आने के कारण यह नलकूप भी पिछले कुछ दिनों से खराब पड़ा है ग्रामीणों ने बताया कि इस नलकूप में कुछ पाइप और डालने की आवश्यकता है लेकिन अभी तक दोनों नलकूप से जली हुई मोटर भी विभाग द्वारा नहीं निकाली गई है ।

इनका कहना कि- ट्रांसफार्मर की समस्या को लेकर गांव में नलकूप की बार-बार मोटर जल रही है इसके कारण गांव में भारी जल संकट खड़ा हो गया है वर्तमान में लगा ट्रांसफार्मर जो छोटा है एक ही ट्रांसफार्मर से नलकूप एवं घरों की विद्युत आपूर्ति की जा रही है जिसके कारण नलकूप को पूरा वोल्टेज नहीं मिल पा रहा है इस संबंध में विद्युत विभाग को अवगत करवा कर बड़ा ट्रांसफार्मर स्थापित करने की मांग की गई है
भीख राज जाखड़ सरपंच प्रतिनिधि ग्राम पंचायत जैसलसर श्री डूंगरगढ़

ट्रांसफार्मर की तकनीकी खामी के कारण पूरा वोल्टेज नहीं मिलने के कारण नलकूप की मोटर बार-बार जल रही है जिसके कारण गांव में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है लेकिन संबंधित विभाग द्वारा अभी तक ट्रांसफार्मर बदलने की कोई कार्रवाई नहीं की गई है जिसके चलते ग्रामीणों में भारी आक्रोश का माहौल है
सुगना राम जाखड़ ग्रामीण सातलेरा

Samachargarh AD
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!
विज्ञापन