Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
HomeFrontश्रीडूंगरगढ कस्बे में सीएचसी पर मजबूर और गरीब की हालत दयनीय और...

श्रीडूंगरगढ कस्बे में सीएचसी पर मजबूर और गरीब की हालत दयनीय और बदतर, सरकारी योजनाओं को सिर्फ दीवारों पर रेखांकित

Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD

समाचार गढ़, श्रीडूंगरगढ़। श्रीडूंगरगढ कस्बे में सीएचसी पर मजबूर और गरीब की हालत दयनीय और बदतर है। यहां सरकारी योजनाओं को सिर्फ दीवारों पर रेखांकित किया गया है जबकि जमीनी हकीकत कुछ और ही है। कस्बे के सीएचसी में फैली अव्यवस्थाओं को रेखांकित करते हुए कॉमरेड हरिप्रसाद सिखवाल ने जिलाधिकारी को पत्र देकर बताया कि सीएचसी में रविवार या अन्य छुट्टी वाले दिन अस्पताल 9 से 11बजे तक सुबह खुलता है परन्तु सभी जांचें बाहर से करवानी पड़ती है। वहीं सामान्य दिनों में डॉक्टर सुबह 8 से दोपहर 2बजे तक देखते है परन्तु लैब टेक्नीशियन द्वारा 12बजे जांच बंद कर दी जाती है। जिसके कारण मजबूरन मरीजों को बाहर से जांच करवानी पड़ती है। सिखवाल ने पत्र लिखते हुए अस्पताल समय में जांच सुचारू रखने की बात कही। इस दौरान हनुमान माली, राष्ट्रीय मानवाधिकार के युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष संतोष विनायकिया, डूंगरराम महिया, हनुमान मेघवाल आदि उपस्थित रहे।

Samachargarh AD
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!
विज्ञापन