Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
HomeFrontउपतहसील सूडसर में शामिल किए जाने का विरोध, अनिश्चित कालीन धरना तीसरे...

उपतहसील सूडसर में शामिल किए जाने का विरोध, अनिश्चित कालीन धरना तीसरे दिन भी जारी

Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD
Samachargarh AD

समाचार गढ़, श्रीडूंगरगढ़। उपतहसील सूडसर में शामिल किए जाने के विरोध में कई ग्रामीण क्षेत्रों के निवासियों में काफी रोष है।
नवीन उप तहसील सूडसर में शामिल किए जाने के कारण कई जगह विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं इसी क्रम में आज संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा लखासर गिरदावर हल्के को पुनः श्रीडूंगरगढ मे शामिल करने हेतु अनिश्चित कालीन धरना आज से आरम्भ किया गया है।
ग्रामीणों का कहना है कि श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में हाल ही सूडसर को उप तहसील बनाया गया है, जो सूडसर के नजदीकी गांवों के लिए एक अच्छा कदम साबित हो सकता है लेकिन इस दरमियान कुछ ऐसे गांव जो आवागमन की दृष्टि से सूडसर की अपेक्षा श्रीडूंगरगढ़ के बिल्कुल नजदीक में पड़ते हैं उनको भी सूडसर में शामिल करना उन गावों के निवासियों के साथ सरासर अन्याय है। लखासर, बेनिसर, मणकरासर, समंदसर, बिंझासर, भोजास, लोड़ेरा आदि गांवों के नागरिकों को पटवार हल्का / तहसील सूडसर होने से आने वाले समय मे बहुत बड़ी दिक्कत पेश आएगी।
श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र के युवा नेता व पूर्व अध्यक्ष डूंगर कॉलेज मांगीलाल गोदारा ने कहा कि पूर्व में प्रशासन को ज्ञापन भी दिया तथा इस समस्या से कई बार अवगत कराया जा चुका है। अंत में न्याय संगत मांग के लिए लोकतांत्रिक तरीके से धरना शुरू किया है
गोदारा ने नागरिकों और युवाओं से आग्रह किया है कि इस असंगत फैसले का पुरजोर तरीके से विरोध करना है।
अगर जरूरत पड़ी तो इसके लिए आंदोलन का रास्ता भी चुनना पड़ेगा लेकिन क्षेत्र के नागरिकों के हकों पर हो रहे इस कुठाराघात को सहन नही करेंगे। संयुक्त संघर्ष सीमित में तीसरे दिन क्षेत्र के गोवर्धन खिलेरी, खियाराम गोदारा, महेंद्र सिंह, नानुराम नैण, उत्तमनाथ सिद्ध, काननाथ गोदारा, बजरंग सिंह, सुरजाराम गोदारा, नारायण गोदारा, डूंगर सिंह, मनोज शर्मा, मुलतान शर्मा , ओशो जिज्ञासु , मामराज गोदारा, जगदीश गोदारा, लिच्छुराम नायक, मेघराज शर्मा आदि ग्रामीण उपस्थित रहे।

Samachargarh AD
RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!
विज्ञापन